उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना: ऑनलाइन (Pravasi Swarojgar) रजिस्ट्रेशन

Uttarakhand Mukhyamantri Pravasi Swarojgar Yojana Apply | मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Mukhyamantri Pravasi Swarojgar Yojana Form

दोस्तों उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के द्वारा  चलाई गई है इस योजना के तहत सभी प्रवासी मजदूरों  को लोन दिया जाएगा। उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना प्रक्रिया आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों में कर सकते हैं। इस योजना के तहत मुख्यमंत्री ने कहा है कि राष्ट्रीयकृत बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, राज्य सहकारी बैंक और अन्य शेडूल बैंकों के जरिए मजदूर को लोन दिया जाएगा। Mukhyamantri Swarojgar Yojana के तहत उत्तराखंड सरकार उत्तराखंड वासियों को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करेगी। इस योजना के तहत  विनिर्माण में 2500000 रुपए और सेवा क्षेत्र में 1000000 रुपए तक की परियोजनाओं पर लोन मिलेगा।

Uttarakhand Swarojgar Yojana Apply

इस योजना के तहत लाभ उठाने के लिए आपको इस योजना में आवेदन करवाना पड़ेगा और आवेदन करवाने के लिए आपको सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अगर आप लोगों को इस योजना के बारे में इतनी जानकारी नहीं है तो  घबराइए नहीं आज हम अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में  के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।

Uttarakhand Migrant Registration

उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना

उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना  श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत  द्वारा बनाई गई है इस योजना का मकसद था कि  प्रवासी उत्तराखंड वासियों को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करें। Mukhyamantri Pravasi Swarojgar Yojana के तहत विनिर्माण में 2500000 रुपए और सेवा क्षेत्र में 1000000 रुपए तक की परियोजनाओं पर लोन मिलेगा।मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि इस योजना की जानकारी  हर गांव तक पहुंचे ताकि युवा इस योजना का लाभ उठा सकें। और उनका मकसद था कि इस योजना के लिए लाभार्थी को लोन लेने में कोई समस्या ना आए। योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी के लाभार्थी द्वारा परियोजना लागत का 10 परसेंट जबकि विशेष श्रेणी के लाभार्थी को कुल परियोजना लागत का 5 परसेंट स्वयं के अंशदान के रूप में जमा करना होगा। उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की संपूर्ण जानकारी जानने के लिए आप उसका एप्लीकेशन फॉर्म भी डाउनलोड कर सकते हैं।

किन लोगों को मिलेगा उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का लाभ?

  • Mukhyamantri Pravasi Swarojgar Yojana का लाभ  युवाओं और कोविड-19 के माध्यम से लौटते हुए प्रवासी को स्वरोजगार के लाभ उपलब्ध कराए जाएंगे। इसका मकसद था कि जो बेचारे कोविड-19 की वजह से अपने घर लौट रहे हैं उनको और आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें और उनको मदद प्रदान करें।
  • इस योजना से कुशल और अकुशल दस्तकार, हस्तशिल्पी और बेरोजगार युवा खुद के व्यवसाय के लिए प्रोत्साहित होंगे।
  • Mukhyamantri Swarojgar Yojana से लोन आप किसी भी बैंक जैसे कि राष्ट्रीय करता बैंक अनुसूचित वर्ल्ड चेक बैंक और सहकारी बैंक के माध्यम से रण प्राप्त कर सकते हैं। उत्तराखंड मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र जी ने घोषणा की थी कि इस योजना की जानकारी गांव गांव तक पहुंच जाए ताकि युवा इस योजना का लाभ उठा सकें और चलती हुई परेशानी जैसे के कोविड-19 से आगे बढ़ने अथवा उभरने का मौका पा सके।
  • इस योजना के अंतर्गत मार्जिन मनी की धनराशि अनुदान के रूप में दी जाएगी। विनिर्माण क्षेत्र में परियोजना की 2500000 रुपए और सेवा व व्यवसाय क्षेत्र के लिए 1000000 रुपए होगी।

Shramik Special Train Online Booking

Uttarakhand Mukhyamantri Pravasi Swarojgar Yojana के कौन पात्र है?

  • उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में आवेदन लेने के लिए आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक अथवा उसके परिवार के सदस्यों को योजना के तहत केवल एक  बार लाभान्वित किया जाएगा।
  • आवेदन का चयन अधिक आवेदन प्राप्त होने पर प्रोजेक्ट बाय बिलिटी को देखते हुए पहले आओ पहले पाओ के आधार पर किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत उद्योग सेवा एवं व्यवसाय क्षेत्र में वित्तपोषण सुविधा उपलब्ध होगी।
  • आवेदक द्वारा पिछले 5 वर्ष में भारत सरकार ने राज्य सरकार द्वारा संचालित किसी स्वरोजगार योजना का लाभ प्राप्त नहीं किया हो।

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत कितना लोन मिलेगा?

  • विनिर्माण क्षेत्र में परियोजना की अधिकतम लागत 2500000 रुपए और सेवा व्यवसाय क्षेत्र के लिए अधिकतम ₹1000000 होगी।
  • एम एस एम आई नीति के अनुसार वर्गीकृत श्रेणी में मार्जिन मनी की अधिकतम सीमा 25 परसेंट श्रेणी में 20 परसेंट तथा सी व डी श्रेणी में केवल 15 परसेंट तक मार्जिन मनी के रूप में होगी।
  • उघम के 2 वर्ष तक सफल संचालन के बाद मार्जिन मनी अनुदान के रूप में समायोजित की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी के लाभार्थी द्वारा परियोजना लागत का 10 परसेंट जबकि विशेष श्रेणी के लाभार्थी को कुल 5 परसेंट स्वयं के अंशदान के रूप में जमा करना होगा।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का लोन कहां-कहां मिलेगा?

  • उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का लोन
  • राष्ट्रीयकृत बैंक
  • अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक
  • सहकारी, बैंक आदि में मिलेगा।

उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में आवेदन कैसे करें?

राष्ट्रीयकृत बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, राज्य सहकारी बैंक और अन्य शैडयूल्ड बैंक में जाकर आवेदन करना होगा | उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना 2015 के तहत यहाँ से आप अपना आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते है | एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को भरना होगा आवेदन फॉर्म भरने के बाद ज़रूरी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा और फिर बैंक में जाकर जमा करना होगा इस तरह आपका आवेदन पूरा हो जायेगा |

उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना

Conclusion

प्रिय दोस्तों उम्मीद करती हूं कि आपको इस आर्टिकल के माध्यम से समझ आ गया होगा कि उत्तराखंड मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना क्या है अथवा इसमें कितना लोन आपको प्राप्त हो सकता है। आगे भी इसी तरह और स्कीम्स के बारे में आपको जानकारी प्रदान करती रहूंगी। अगर आपको फिर भी कोई कठिन नहीं आती है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। आपका कमेंट हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा।

Leave a Comment