Rajasthan Tarbandi Yojana 2023 Apply Online राजस्थान तारबंदी योजना क्या है

Rajasthan Tarbandi Yojana 2023 Online Application Form राजस्थान तारबंदी योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे Tarbandi Yojana के लाभ, विशेषताएं एवं पात्रता जाने

राजस्थान राज्य में अधिकतर किसान ऐसे हैं जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण अपने खेतों में तारबंदी नहीं कर पाते है । और जंगली जानवर भोजन की तलास में खेत में आकर खेत को बर्बाद कर देते हैं। जिसके कारण किसानों की साल भर की मेहनत बर्बाद हो जाती है और उन्हें अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। किसानों की समस्या को दूर करने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा किसानों के खेतों में तारबंदी करने के लिए एक नई योजना की शुरुआत की गई है। जिसका नाम राजस्थान तारबंदी योजना है। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों के खेतों पर खेतों के चारों ओर तारबंदी करने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिसके माध्यम से तारबंदी के लिए खर्च हुई कुल राशि का 50% खर्च राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा।

अगर आप भी राजस्थान के किसान है। और अपने खेतों में तारबंदी कराना चाहते हैं। तो आपको यह आर्टिकल ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Rajasthan Tarbandi Yojana 2023 से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। ताकि आप भी योजना में आवेदन कर योजना का लाभ प्राप्त कर सके।

राजस्थान तारबंदी योजना 2023

Rajasthan Tarbandi Yojan

राजस्थान कृषि उपज रहन ऋण योजना

Rajasthan के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा राजस्थान तारबंदी योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के तहत एक किसानों को अधिकतम 400 रनिंग मीटर लंबाई तक तारबंदी कराने के लिए किसान को 48 हजार रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा। यानी एक किसान को अपने खेत के चारों ओर तारबंदी कराने पर सरकार द्वारा लागत मूल्य का 50% अनुदान दिया जाएगा। और बाकी का 50% किसान को स्वंय की वहन करने होंगे। तारबंदी योजना का लाभ पहले आओ पहले पाओ के आधार पर राज्य के किसानों को दिया जाएगा। राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना के तहत 8 करोड़ 49 लाख रुपए तक की वृतीय सहायता देने का लक्ष्य रखा गया है।

राज्य के लघु एवं सीमांत किसान को इस योजना का लाभ कृषि विभाग के दिशा निर्देश अनुसार कार्य पूर्ण करने वाले कृषक समूह को कृषि विभाग के अधिकारी द्वारा सत्यापन के बाद अनुदान प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा किसानों को दिए जाने वाला यह अनुदान सीधा उनके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जाएगा। जिससे किसान अपने खेतों में तारबंदी करा सकेंगे। और किसानों को किसी भी जंगली जानवर से अपने खेतों को बर्बाद करने का भय नहीं रहेगा।

राजस्थान निःशुल्क ट्रेक्टर एवं कृषि यंत्र योजना

Rajasthan Tarbandi Yojana Key Highlights

योजना का नामराजस्थान तारबंदी योजना
आरंभ की गईराजस्थान सरकार द्वारा
विभागकृषि विभाग राजस्थान
उद्देश्यकिसानों को तारबंदी कराने के लिए आर्थिक सहायता करना
लाभार्थीलघु एवं सीमांत किसान
सहायक राशि3 लाख 96  हजार रुपए तक
लाभतारबंदी हेतु सहायता राशि
राज्यराजस्थान
साल2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइट  rajkisan.rajasthan.gov.in

राजस्थान तारबंदी योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा शुरू की गई राजस्थान तारबंदी योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के लघु एवं सीमांत किसान की फसलों को आवारा पशुओं और जंगली जानवरों से बचाना है। जिसके लिए सरकार किसानों को अपने खेतों में तारबंदी कराने के लिए लागत मूल्य का 50% अनुदान प्रदान करेगी। इस योजना के तहत एक किसानों को अधिकतम 400 रनिंग मीटर लंबाई तक तारबंदी कराने के लिए 48 हजार रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा। किसान अपने खेतों में चारों तरफ कांटेदार तार लगाकर अपनी फसलों को सुरक्षित रख सकेगे। जिससे किसानों को जंगली जानवर से होने वाली हानियों से बचाया जा सकेगा। और उनकी फसल में भी बढ़ोतरी होगी।

राजस्थान किसान कर्ज माफी लिस्ट 

Rajasthan Tarbandi Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजस्थान तारबंदी योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वाराकी गयी|
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी लघु एवं सीमांत किसानों को लाभान्वित किया जाएगा। जिन किसानों के पास कृषि भूमि 3 हेक्टेयर से 5 हेक्टेयर तक है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को तारबंदी करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • राज्य सरकार द्वारा तारबंदी योजना के तहत किसानों को मिलने वाली सहायक राशि किसान के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा।
  • राजस्थान तारबंदी योजना के अंतर्गत किसानों को 400 मीटर की तारबंदी कराने पर अनुदान दिया जाएगा।
  • किसानों को जंगली जानवर से होने वाली हानियों से बचाया जा सकेगा। और उनकी फसल में भी बढ़ोतरी होगी।
  • Rajasthan Tarbandi Yojana के अंतर्गत किसानों को तारबंदी कराने पर सरकार द्वारा 50% तक की सहायक राशि प्रदान की जाएगी। जिसमें 48 हजार रूपए तक का खर्च किसानों को योजना के अंतर्गत प्राप्त होगा।
  • किसान अपने खेतों में चारों तरफ कांटेदार तार लगाकर अपनी फसलों को सुरक्षित रख सकेगे।
  • राजस्थान राज्य के किसानों को तारबंदी करने के लिए राज्य सरकार द्वारा और 50% प्रतिशत तक की सहायता राशि उपलब्ध कराई जाएगी और 50% स्वयं किसान द्वारा खर्च किए जाएंगे।
  • अब राज्य के किसानों के खेत जंगली जानवरों के कारण बर्बाद नहीं होंगे।
  • इस योजना के तहत 8 करोड़ 49 लाख रुपए तक की वृतीय सहायता देने का लक्ष्य रखा गया है।
  • राज्य के लघु एवं सीमांत किसान को इस योजना का लाभ कृषि विभाग के दिशा निर्देश अनुसार कार्य पूर्ण करने वाले कृषक समूह को कृषि विभाग के अधिकारी द्वारा सत्यापन के बाद अनुदान प्रदान किया जाएगा।

Rajasthan Tarbandi Yojana Eligibility (पात्रता)

  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए। स्थान राज्य के एवं सीमांत किसान हैं तरबंदी योजना के लिए पात्र होंगे।
  • Rajasthan Tarbandi Yojana में केवल वही किसान आवेदन कर सकते हैं जिनके पास 0.5 कृषि योग्य भूमि है।
  • राजस्थान तारबंदी योजना के अंतर्गत एक कृषक को अधिकतम 400 मीटर की तारबंदी करने पर ही सरकार द्वारा आर्थिक सहायक राशि प्रदान की जाएगी।
  • राज्य के वही कृषक इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र होंगे जिनके आधार कार्ड संख्या को भी रजिस्ट्रेशन के दौरान प्रदर्शित किया गया है।
  • आवेदक का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

राजस्थान तारबंदी योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • कृषक आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • एफिडेविट
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • भूमि दस्तावेज
  • खेत का नक्शा  
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

राजस्थान तारबंदी योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

Rajasthan Tarbandi Yojan aawedan
  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी e-mitra केंद्र पर जाना होगा।
  • ई-मित्रा केंद्र पर जाने के बाद आपको राजस्थान तारबंदी योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा और साथ ही मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को भी संलग्न करना होगा।
  • अब आपको यह आवेदन फॉर्म e-mitra के संबंधित अधिकारी के पास जमा करना होगा।
  • इसके बाद संबंधित अधिकारियों के द्वारा आवेदन फॉर्म की जांच की जाएगी।
  • जांच पूर्ण हो जाने के बाद आवेदक को SMS के माध्यम से सूचित किया जाएगा।
  • सभी प्रक्रिया पूर्ण हो जाने के बाद आवेदक किसान को योजना के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जाएगा।

Leave a Comment